BREAKING!
  • संभाग आयुक्त ओझा ने देखी पार्किंग व्यवस्था
  • ग्वालियर स्मार्ट सिटी ने जीता आईटी एक्सिलेंस अवॉर्ड, सीईओ महीप तेजस्वी सम्मानित
  • टेक्रोलाजी का फायदा तभी जब आम आदमी को उसका लाभ मिले: धोत्रे
  • बीएसएनएल को संकट से उबारने रिवाइवल पैकेज बनाया है : केन्द्रीय राज्यमंत्री संजय धोतरे
  • राज्य सरकार बाढ़ पीडितों के मामले में राजधर्म का पालन करे: विजयवर्गीय
  • घासमंडी से ढाई लाख की स्मैक सहित एक आरोपी दबोचा
  • बीएसएफ अकादमी टेकनपुर में बावा दिवस बनाया
  • निगम अपने परियोजना अधिकारी को तत्काल मूल विभाग में भेजें
  • बीमा चिकित्सालय में बिजली संकट से आपरेशन नहीं रूकेंगे
  • राष्ट्रीय स्तर पर मेले को पहचान दिलाने पर काम करेंगे नये पदाधिकारी

Sandhyadesh

आज की खबर

उमस से लोग परेशान, गरज के साथ बारिश की संभावना

11-Sep-19 37
Sandhyadesh

ग्वालियर। गत मंगलवार को आसमान साफ होने पर गर्मी ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ ली है। बुधवार को अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। इससे दिन में उसम भरी गर्मी ने लोगों को बेहाल कर दिया। हवा में नमी कम होने से बरसने वाले बादल नहीं बन पाए। शाम 4 बजे अचानक आए बादलों के कारण हवा की गति थम गई, इससे गर्मी ज्यादा असहनीय हो गई। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे में बादल छाने से हल्की बारिश की संभावना है। 
दमोह के पास बना निम्न दाब का क्षेत्र पश्चिम मध्य प्रदेश की ओर शिफ्ट हो गया है। मानसून ट्रफ लाइन भी शिवपुरी के नीचे होकर गुजर रही है। इससे ग्वालियर शहर की ओर नमी नहीं आ सकी है। इस कारण दिन में बादल नहीं बन पाए और आसमान सफा रहा। जिससे अधिकतम तापमान बढ़ गया। गत दिवस की अपेक्षा तापमान में 1.6 डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज हुई। दोपहर 3 बजे गर्मी काफी अधिक थी।
मौसम विभाग के अनुसार ग्वालियर में सामान्य से 10 फीसदी बारिश कम हुई है। अब बारिश के सिर्फ 20 दिन शेष बचे हैं। मौसम विभाग के अनुसार यह पूर्ति अगले 20 दिन में होने वाली बारिश से हो सकती है। क्योंकि 15 सितंबर के बाद एक नया निम्नदाब का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में विकसित हो रहा है, जो मध्य प्रदेश से होते हुए गुजरेगा। साथ ही एक सिस्टम दिल्ली के पास 17 सितंबर को विकसित होने की संभावना है, इससे ग्वालियर में अच्छी बारिश हो सकती है।