BREAKING!
  • संभाग आयुक्त ओझा ने देखी पार्किंग व्यवस्था
  • ग्वालियर स्मार्ट सिटी ने जीता आईटी एक्सिलेंस अवॉर्ड, सीईओ महीप तेजस्वी सम्मानित
  • टेक्रोलाजी का फायदा तभी जब आम आदमी को उसका लाभ मिले: धोत्रे
  • बीएसएनएल को संकट से उबारने रिवाइवल पैकेज बनाया है : केन्द्रीय राज्यमंत्री संजय धोतरे
  • राज्य सरकार बाढ़ पीडितों के मामले में राजधर्म का पालन करे: विजयवर्गीय
  • घासमंडी से ढाई लाख की स्मैक सहित एक आरोपी दबोचा
  • बीएसएफ अकादमी टेकनपुर में बावा दिवस बनाया
  • निगम अपने परियोजना अधिकारी को तत्काल मूल विभाग में भेजें
  • बीमा चिकित्सालय में बिजली संकट से आपरेशन नहीं रूकेंगे
  • राष्ट्रीय स्तर पर मेले को पहचान दिलाने पर काम करेंगे नये पदाधिकारी

Sandhyadesh

आज की खबर

कहीं तो कुछ गड़बड़ है एमपी में

04-Sep-19 506
Sandhyadesh


भोपाल।  मध्यप्रदेश में जिस तरह से कमलनाथ सरकार के मंत्री अपनी ही पार्टी के नेताओं पर आरोपों की दनादन बौछार कर रहे हैं। उससे लगता है कि कहीं न कहीं कुछ गड़बड़ है। बीती रात्रि पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा भी अपने कोटे के सभी मंत्री व विधायकों को जय विलास पैलेस में भोज भी दिये जाने की खबर है। 
इधर निर्दलीय विधायक सुरेन्द्र सिंह शेरा भी अपने रंग मेें आ गये हैं। भिंड के बसपा विधायक भी समय का इंतजार कर रहे हैं। कुल मिलाकर कांग्रेस की नई बनी सरकार में जो कुछ चल रहा है, उसे बेहतर नहीं कहा जा सकता। 
वन मंत्री उमंग सिंघार के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर ताबड़तोड़ आरोपों के बाद कांग्रेस नेता सरकार के भविष्य के बारे में सोचने लगे हैं। कुछ का यह कहना है कि वन मंत्री उमंग सिंघार को अपनी बात पार्टी फोरम पर उठानी चाहिये थी, इस तरह सार्वजनिक नहीं की जानी चाहिये थी। इससे पहले से ही घट -घटे पर चल रही सरकार की हालत दयनीय हो रही है। अधिकारी पहले ही हम लोगों की नहीं सुन रहे, अब तो गुटबाजी में फसेंगे तो बिल्कुल ही अधिकारी इग्रोर कर देंगे। 
दरबारीलाल.........