BREAKING!
  • पुलिस के प्रति संवेदनशील और अपराधियों के लिये सख्त सरकार
  • कलेक्टर एवं नगर निगम आयुक्त ने किया गौशाला का निरीक्षण, दिए आवश्यक दिशा निर्देश
  • वर्ष-2019 में अंतिम नेशनल लोक अदालत का सफल आयोजन
  • बेहट में आयोजित होने वाले कार्यक्रम की तैयारियों का जिला पंचायत सीईओ ने लिया जायजा
  • प्रजापिता ब्रह्मा बाबा का 143वीं जयंती समारोह 15 को
  • ना तो कर्जा माफ हुआ, ना ही बेरोजगारों को भत्ता मिला, न ही मुख्यमंत्री साफ हुआ -देवेश शर्मा
  • जागरूकता की कमी से होती है महिलाओं में रक्त अल्पता :डॉ. ममता शुक्ला
  • लायनेस क्लब का 16वां तीन दिवसीय समागम 31 जनवरी 2020 से ग्वालियर में
  • पडाव पुल के पास अवैध निर्माण को प्रशासन ने ढहाया
  • मोदी ने गंगा में नौकायन कर सफाई का निरीक्षण किया

Sandhyadesh

आज की खबर

लक्ष्मणपुरा क्रासिंग से हटेगा स्मार्ट सिटी का बाइक शेयरिंग स्टेशन

01-Dec-19 34
Sandhyadesh



ग्वालियर। स्मार्ट सिटी की पब्लिक बाइक शेयरिंग के एक स्टेशन को रेलवे प्रशासन हटा सकता है। यह स्टेशन प्लेटफार्म नंबर 4 पश्चिमी प्रवेश द्वार की नैरोगेज क्रासिंग पर बनाया गया है। यह पब्लिक बाइक शेयरिंग अब नैरोगेज क्रासिंग के चौड़ीकरण के कार्य में बाधा उत्पन्न कर रहा है।
ग्वालियर स्मार्ट सिटी कारपोरेशन द्वारा बीते कुछ समय पूर्व ही पब्लिक बाइक शेयरिंग योजना शुरू की गई थी। इस योजना के तहत शहरभर में 500 से भी अधिक बाइक विभिन्न स्टेशन स्थापित कर वहां खड़ी की गई है, ताकि बाइक शेयरिंग के इच्छुक लोग आकर यहां बाइक अपनी सुविधा से लेकर चला सकें। इसी के तहत ग्वालियर रेलवे स्टेशन पश्चिमी प्रवेश द्वार पर रेलवे नैरोगेज क्रासिंग के पास ही खाली जमीन पर स्मार्ट सिटी कारपोरेशन ने बाइक शेयरिंग स्टेशन स्थापित कर दिया था और यहां एक दर्जन बाइक रखने की व्यवस्था भी की थी। लेकिन अब यह बाइक स्टेशन यहां परेशानी का कारण बन रहा है।
इस बाइक स्टेशन की वजह से अब लक्ष्मणपुरा नैरोगेज क्रासिंग के चौड़ीकरण में दिक्कत आ रही है, यहां चौड़ीकरण के लिये लिफ्टिंग बैरियर का बेस तो बना दिया है। पहले चूंकि क्रासिंग गेट 8 से 9 मीटर था अब इसे 16 मीटर किया जाना है। इसी कारण अब बाइक शेयरिंग स्टेशन को यहां से हटाया जाना रेलवे अधिकारियों की मजबूरी है। रेलवे अधिकारियों ने स्मार्ट सिटी परियोजना के अधिकारियों से कह दिया है कि यह बाइक शेयरिंग स्टेशन आप यहां से शीघ्र हटायें। हालांकि स्मार्ट सिटी परियोजना के अधिकारी इसको बचाने की युक्ति में लगे है, लेकिन इसको हटाये बिना रेल क्रासिंग व सड़क चौड़ीकरण संभव नहीं है। 
इस संदर्भ में स्मार्ट सिटी परियोजना के इंजीनियर अंकित शर्मा से जानकारी ली गई तो उनका कहना था कि उन्हें इस संदर्भ में कोई जानकारी नहीं है। 

2019-12-15aaj