भीषण बिजली संकट के विरोध में भाजपा ने निकाली चिमनी यात्रा

ढोल नगाड़े बजाकर कमलनाथ सरकार की नींद हराम
ग्वालियर । मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार की नाकामी के कारण पैदा हुए भीषण बिजली संकट को लेकर बुधवार शाम 7 बजे भारतीय जनता पार्टी ने आम नागरिकों को साथ लेकर चिमनी यात्रा थाटीपुर स्थित द्वारिकाधीश मंदिर से शुरू कर मयूर मार्केट तक निकाली। इस यात्रा के लिए सभी कार्यकर्ता द्वारकाधीश मंदिर, थाटीपुर पर एकत्रित हुए।
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष देवेश शर्मा ने कहा कि यह सरकार बिजली कटौती से पीडि़त जनता की चीख पुकार नहीं सुन पा रही है इसलिए चिमनी यात्रा के साथ पार्टी ढोल नगाड़े भी साथ लेकर चली और कमलनाथ सरकार की नींद हराम की।
श्री शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश के हालात बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है, जहां सरकार पानी और बिजली जैसी समस्याओं पर भी अपनी जिम्मेदारी निभाने के बजाए कभी अधिकारियों को कोसती है तो कभी बिजली उपकरणों की गुणवत्ता पर प्रश्न खड़े करती है, जबकि इन्हीं बिजली उपकरणों के द्वारा पिछले 15 सालों से मध्यप्रदेश में निर्बाध बिजली की आपूर्ति की जा रही थी। कमलनाथ सरकार की इस हरकत से यह आशंका बढ़ गयी है कि सरकार बिजली संकट की आड़ में कोई ट्रांसफार्मर और अन्य बिजली उपकरणों की खरीदी का घोटाला करना चाहती है। भाजपा की पैनी नजर सरकार की सभी हरकतों पर है। हम न तो सरकार को कोई घोटाला करने देंगे और न बिजली संकट को लेकर कोई बहानेबाजी सुनेंगे।
इस यात्रा में अभय चौधरी, महामंत्रीगण शरद गौतम, महेश उमरैया, जिला उपाध्यक्ष अशोक जादौन, रामेश्वर भदौरिया, सोनू मंगल, श्रीमती रीना सोलंकी, कोषाध्यक्ष प्रमोद खंडेलवाल, रमेश सेन, रामप्रकाश परमार, विजय सक्सैना, महेंद्र सिंह सोलंकी, श्रीमती खुशबू गुप्ता, बलराम बघेल, भरत दांतरे, परवेज खान, मनीष मांझी, नूतन श्रीवास्तव, मनीष दीक्षित, अभिनंदन त्यागी, सुभाष शर्मा, धर्मेंद्र सिंह तोमर, आशीष अग्रवाल, संतोष गोडयाले , युवा मोर्चा के महामंत्री निर्दोष शर्मा आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *